itemtype="https://schema.org/Blog" itemscope>

Microphone Kya Hai ? How To Work Microphone

आपने कभी कार्यक्रमों में माइक का उपयोग होते देखा/सुना होगा । यदि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं । तब यह आर्टिकल Microphone Kya Hai ? How To Work Microphone को ध्यान से पूरा पढ़ें ।

Microphone Kya Hai

माइक्रोफोन एक ऐसी डिवाइस है जो ध्वनि ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलता है । इसे हम समान भाषा में माइक भी कहते हैं आप नीचे चित्र में कुछ माइक्रोफोन को देख सकते हैं ।

आपने बड़े-बड़े प्रोग्रामों में माइक में बोलते देखा होगा । माइक द्वारा हमारे आवाज को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है । इस विद्युत ऊर्जा को स्पीकर द्वारा ध्वनि ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है इस कारण आपको माइक में बोले गए ध्वनि स्पीकर में सुनाई देती है ।

माइक्रोफोन की खोज किसने कब हुई ?


माइक्रोफोन की खोज एमिली बर्नियर  ने 1876 में की थी । इसका प्रयोग उन्होंने टेलीग्राम स्वर ट्रांसमीटर के रूप में किया था  ।

Mic (Microphone) का उपयोग

माइक की खोज यह सिद्धांत से हुई थी । कि यदि हमें अपनी बात किसी सभा/ कार्यक्रम/ सम्मेलन में दूर व्यक्ति तक पहुंच सुनाई दे ।

माइक का उपयोग इसी सिद्धांत से जुड़े कार्यों में होती है । माइक का उपयोग टेलीविजन , रेडियो या टेलीफोन प्रसारण में , मोबाइल/ कंप्यूटर में आवाज रिकॉर्ड करने में , ओके गूगल बोलकर टाइपिंग करवाने में , श्रवण यंत्रों में जैसे अनेक कार्यों में माइक्रोफोन का उपयोग होता है ।

माइक्रोफोन के प्रकार

माइक्रोफोन को उनके काम के आधार  हम तीन भागों में बांटते हैं । यह अलग-अलग तरह के होते हैं यहां नीचे काम करने की पद्धतियों के आधार पर हम मुख्य रूप से तीन भागों में बांटते हैं ।

  • Dynamic Microphone
  • Condenser Microphone
  • Ribben Microphone

माइक्रोफोन कैसे काम करता है ?( How To Work Microphone )

माइक का कार्य आवाज को रिकॉर्डिंग करना है । यह माइक रिकॉर्डिंग वॉइस को विद्युत सिग्नल में बदलता है ।

माइक्रोफोन के ऊपरी हिस्से में डायाफ्राम होता है जो ध्वनि संवेदक होता है । जब हम कोई ध्वनि उत्पन्न करते हैं/ बोलते हैं । तब यह एक तरंग के रूप में गति करता है । यह तरंग डायाफ्राम में कंपन उत्पन्न करती है ।

यह डायाफ्राम Coil से जुड़ा होता है जो डायाफ्राम को कंपन के साथ हिलता है । Coil की कारण चुम्बकीय क्षेत्र उत्पन्न होता है । यह चुम्बकीय क्षेत्र के कारण विद्युत क्षेत्र उत्पन्न होता है ।

Coil में एक एम्प्लीफायर होता है और विद्युत क्षेत्र अधिक बढ़ा देते हैं ।यह विद्युत सिग्नल को स्पीकर में बदल देता है । जिससे वह आवाज हमें बड़ी प्रबलता से दूर तक सुनाई देती है ।

इस प्रकार माइक्रोफोन कार्य करता है ।

निष्कर्ष

यह आर्टिकल में आपने Microphone Kya Hai ? How To Work Microphone इससे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी को पढ़ा है ।

उम्मीद है यह आर्टिकल पढ़कर आपके मन में उठे प्रश्नों का उत्तर भी मिल गया होगा ।

Leave a Comment